Bootable Pendrive Kya Hota Hai – बूटेबल पेन ड्राइव क्या होता है

बूटेबल पेनड्राइव के बारे में आपने जरूरत सुना होगा लेकिन क्या आपको पता है कि बूटेबल पेन ड्राइव क्या होता है – Bootable Pendrive Kya Hota Hai नहीं पता तो इस पोस्ट को पूरा पढ़ें यहां पर बूटेबल पेनड्राइव क्या है इन हिंदी की जानकारी दी गई है।

Bootable Pendrive Kya Hota Hai – बूटेबल पेन ड्राइव क्या होता है

Bootable Pendrive Kya Hota Hai
Bootable Pendrive Kya Hota Hai

वह USB Pen Drive जिसकी सहायता से कंप्यूटर या लैपटॉप पर एक नया ऑपरेटिंग सिस्टम इनस्टॉल किया जाता है उसे बूटेबल पेनड्राइव कहते हैं। इस बूटेबल पेनड्राइव में विंडोज ऑपरेटिंग सिस्टम का आईएसओ फाइल डाला गया होता है, दरअसल आईएसओ फाइल के अंदर कई अलग-अलग Files मौजूद रहते हैं जो ISO फाइल के Format में कंप्रेस्ड होकर रहते हैं। आइसो फाइल ओरिजिनल फाइल साइज को काफी हद तक कंप्रेस्ड करके फाइल साइज को कम करता है।

एक बूटेबल पेनड्राइव के अंदर windows या linux operating system etc. को आसानी से डाला जा सकता है जब किसी operating system को एक बूटेबल पेनड्राइव में डाला जाता है तब उसके अंदर उस ऑपरेटिंग सिस्टम से संबंधित सभी जरूरी फाइल आ जाते हैं इसलिए इसकी मदद से किसी भी  कंप्यूटर सिस्टम ने नया ऑपरेटिंग सिस्टम को इंस्टॉल किया जा सकता है।

बूटेबल पेनड्राइव का फायदा 

अगर आप कंप्यूटर का उपयोग करते हैं तो आपके कंप्यूटर पर कभी ना कभी वायरस (junk file) जरूर आता होगा ऐसा होने पर आपका कंप्यूटर बहुत धीमा हो जाता है जिसकी वजह से काम पूरा करने में बहुत ज्यादा समय लग जाता है इसके सलूशन के तौर पर हमें अपने कंप्यूटर को फॉर्मेट करने की आवश्यकता पड़ती है इसके लिए आप किसी एक्स्पर्ट के पास जा सकते हैं पर यदि आपके पास बूटेबल पेनड्राइव मौजूद है तो उसकी मदद से आप खुद भी कंप्यूटर फॉर्मेट करके न्यू विंडोज इंस्टॉल कर सकते हैं। इसका फायदा यही है कि आप खुद नया ऑपरेटिंग सिस्टम इनस्टॉल कर सकते हैं और इसके लिए आपको किसी अन्य व्यक्ति पर निर्भर होने की आवश्यकता नहीं पड़ती, Usb Pendrive को आसानी से बूटेबल बनाया जा सकता है। अगर आप कंप्यूटर स्टूडेंट है तो आपके पास भी एक usb bootable pendrive होना चाहिए क्योंकि यह फ्यूचर में कभी भी काम आ सकता है। 

बूटेबल बनाने के लिए जरूरी रिक्वायरमेंट

पेन ड्राइव को बूटेबल बनाने के लिए आपके पास एक पेन ड्राइव होना चाहिए जो कम से कम 8GB तक का होना चाहिए इससे अधिक का भी ले सकते हैं क्योंकि ऑपरेटिंग सिस्टम का साइज 3GB 4GB या इससे भी अधिक तक की होती है इतना यदि आप चाहते हो कि आपका बूटेबल पेनड्राइव अच्छा परफॉर्म करे तो इसके लिए आपको एक बेस्ट Pendrive का चुनाव करना होगा पेनड्राइव को आप ऑफलाइन या ऑनलाइन शॉप से खरीद सकते हैं। 

ऑनलाइन शॉपिंग साइट में आपको बूटेबल पेनड्राइव मिल जाते हैं पर अगर आपके पास पहले से ही एक पेन ड्राइव उपलब्ध है तो उससे आप खुद से भी एक कप बूटेबल पेनड्राइव में कन्वर्ट कर सकते हैं। पेन ड्राइव को बूटेबल कैसे बनाया जाता है इसके बारे में मैंने पहले ही एक आर्टिकल इस ब्लॉग पर पब्लिश कर दिया है अगर आप जाना चाहते हैं तो नीचे दिए गए लिंक पर क्लिक करके बूटेबल पेनड्राइव बनाना सीख सकते हैं।

बूटेबल पेन कार्ड का उपयोग कैसे करें

इसका उपयोग करना बहुत आसान है इसके लिए आपको एक कंप्यूटर या लैपटॉप की जरूरत पड़ेगी, जैसा कि मैंने ऊपर बताया बूटेबल पेन ड्राइव का काम होता है computer में ऑपरेटिंग सिस्टम इंस्टॉल करना इसलिए आपको कंप्यूटर की आवश्यकता होगी। कंप्यूटर यूएसबी पोर्ट पर यूएसबी बूटेबल पेनड्राइव को अटैच करें। उसके बाद विंडोज इंस्टॉलेशन प्रक्रिया को फॉलो  करके नया विंडोज इंस्टॉल कर सकते हैं। 

क्या एक बूटेबल पेनड्राइव को नॉरमल पेन ड्राइव में बदला जा सकता है?

बिल्कुल आप किसी भी बूटेबल पेनड्राइव को एक मौका पेनड्राइव पर बदल सकते हैं इसके लिए आपको कंप्यूटर पर कमांड प्रॉन्प्ट ओपन करके डिस्क पार्ट में अपनी पेनड्राइव को सिलेक्ट करना होगा उसके बाद उसे क्लीन करना होगा इससे आपका Pendrive फॉर्मेट हो जाएगा, अगर आपको यह पता नहीं है तो ऊपर दिए गए बूटेबल पेंट कैसे बनाए वाले लिंक पर क्लिक करके इसके बारे में जानकारी प्राप्त कर सकते हैं।

दोस्तों यहां पर आपने Bootable Pendrive Kya Hota Hai – बूटेबल पेनड्राइव क्या होता है के बारे में जानकारी प्राप्त की उम्मीद करता हूं आपको इसमें कुछ सीखने को मिला हो, अगर आपको टेक्नोलॉजी से जुड़ी जानकारी पढ़ने में रुचि है तो हमारे इस ब्लॉग को को सब्सक्राइब करें। इससे संबंधित अन्य लेख पढ़ने के लिए नीचे दिए गए लिंक पर क्लिक कर सकते हैं।

Leave a Comment