Home Computer CPU क्या है और सीपीयू का क्या कार्य है

CPU क्या है और सीपीयू का क्या कार्य है

26
0

कंप्यूटर का उपयोग आजकल है स्टूडेंट और ऑफिस में काम करने वाले लोग करते हैं यह तो सीपीयू क्या है के बारे में पूरी जानकारी होगी और उसके कार्य के बारे में भी पता होगा लेकिन जो नए स्टूडेंट है मतलब जिन्होंने कंप्यूटर क्लास ज्वाइन किया है उन्हें कंप्यूटर के इंर्पोटेंट पार्ट्स के बारे में बहुत ज्यादा पता नहीं होता तो आज के इस पोस्ट के माध्यम से CPU क्या है और सीपीयू का क्या कार्य है? (cpu kya hai CPU ka karya in hindi) इसके बारे में पूरी जानकारी बिल्कुल आसान शब्दों में देने वाले हैं।

दोस्तों कंप्यूटर आज की जरूरत बन गया है क्योंकि इसकी सहायता से सभी ऑनलाइन कामकाज किए जाते हैं इसलिए कंप्यूटर सीखना जरूरी हो गया है वैसे अभी के लोगों को कंप्यूटर सीखने में कोई कठिनाई नहीं होती क्योंकि ऑपरेटिंग सिस्टम को इतनी आसान इंटरफेस के साथ लाया गया है कि हर व्यक्ति कंप्यूटर को आसानी से चला सकता है स्मार्टफोन या स्मार्ट गैजेट्स का उपयोग हर कोई करता है ऐसे में कंप्यूटर सीखना और भी सरल लगता है।

मित्रों सीपीयू एक बहुत ही महत्वपूर्ण भाग होता है किसी भी कंप्यूटर सिस्टम का इसके द्वारा ही कंप्यूटर को कुशलतापूर्वक चलाया जाता है यदि किसी डेस्कटॉप पर कोई खराबी होती है तो वह सीपीयू में ही होती है क्योंकि सारा कंपोनेंट्स इसके अंदर ही लगी होती है बाकी के जितने भी पार्ट्स हैं जैसे माउस, कीबोर्ड, यूपीएस इत्यादि पार्ट्स में बहुत कम खराबी या प्रॉब्लम आती है।

फ्रेंड्स आज की पोस्ट में हम जिन बातों को कवर करेंगे इनकी विषय सूची (table of content) कुछ इस प्रकार है –

CPU क्या है – What is CPU in Hindi

CPU क्या है और सीपीयू का क्या कार्य है

सीपीयू कंप्यूटर का एक महत्वपूर्ण भाग है जो कंप्यूटर पर किए जाने वाले सभी कार्यों को नियंत्रित करता है इसे कंप्यूटर सिस्टम का मस्तिष्क भी कहा जाता है क्योंकि कंप्यूटर के कार्य के लिए जितने भी कंपोनेंट्स की आवश्यकता होती है वह इसी के अंदर फिट किए जाते हैं।

इसे उदाहरण के साथ समझे तो कंप्यूटर एक व्यक्ति है और सीपीयू उसका दिमाग है जिस तरह व्यक्ति कुछ भी सोचने या करने के लिए दिमाग का उपयोग करता है उसी तरह एक कंप्यूटर किसी भी इंस्ट्रक्शन को फॉलो करने के लिए सीपीयू का उपयोग करता है क्योंकि सारे इंस्ट्रक्शन पहले सीपीयू के पास आता है बाद में इसे सहयोगी हार्डवेयर (मॉनिटर, प्रिंटर etc.) के द्वारा प्रोसेस (पूरा) किया जाता है, जिस तरह बिना दिमाग के मनुष्य कार्य को समझ के उसे पूरा नहीं कर सकता उसी प्रकार बिना सीपीयू के कंप्यूटर कार्य को पूरा नहीं कर सकता।

C.P.U. संक्षिप्त नाम है जिसका पूरा नाम है सेंट्रल प्रोसेसिंग यूनिट जिसे cpu के नाम से जाना जाता है। दोस्तों सीपीयू पूरी तरह से कस्टमाइजेबल होता है इसलिए इसमें बाद में नई कंपोनेंट्स भी लगाए जा सकते हैं।

अब तक आपने पढ़ा कि सीपीयू क्या होता है सीक्यू से संबंधित अन्य जानकारी भी हम इस लेख में आपके साथ शेयर करने वाले है इसके लिए लेख पर बने रहें और आगे पढ़ें।

सीपीयू का क्या कार्य है – CPU Ka Karya in Hindi

पूरे कंप्यूटर सिस्टम को चलाने के लिए सीपीयू को ही सबसे ज्यादा काम करना पड़ता है यही कारण है कि सीपीयू में बार-बार कोई ना कोई प्रॉब्लम आते रहते हैं जिसे बीच-बीच में रिपेयर करना पड़ता है, सिस्टम में सॉफ्टवेयर ओपन करने, सॉफ्टवेयर इंस्टालेशन और सारी प्रक्रिया को प्रोसेस करने में सीपीयू का मेन रोल होता है इसके बगैर एक कंप्यूटर ऑन भी नहीं हो सकता। अब आपको यह पता चल गया होगा कि सीपीयू बहुत ही ज्यादा महत्वपूर्ण पार्ट्स में से एक है किसी भी कंप्यूटर सिस्टम का।

जब हम कंप्यूटर को कोई निर्देश देते हैं तो उसे process करने के लिए cpu को काम करना पड़ता है, वह process कब तक पूरा होता है यह उस cpu के processor पर निर्भर करता है क्योंकि processor को उनके कार्यक्षमता के आधार पर अलग अलग core के बनाए जाते हैं जिनकी स्पीड भी अलग अलग होती है। आपको समझ में आ गया होगा कि सीपीयू का मुख्य काम किसी काम को प्रोसेस करना होता है।

सीपीयू में प्रोसेसर (processor) क्या होता है?

कंप्यूटर के सीपीयू के अंदर एक मदर बोर्ड होता है जिसमें अलग-अलग कंपोनेंट्स लगे होते हैं उनमें से एक प्रोसेसर भी होता है दरअसल सीपीयू में लगे प्रोसेसर की वजह से ही किसी प्रक्रिया को पूरा किया जाता है। प्रोसेसर को सीपीयू के पंखे के ठीक नीचे फिट किया जाता है इसे अलग-अलग कार्य क्षमता के आधार पर बनाया जाता है तथा कंप्यूटर यूजर अपने कार्य के हिसाब से एक बेहतर सीपीयू प्रोसेसर का चुनाव करता है।

यदि आप कंप्यूटर का उपयोग करते हैं तो आपने यह ध्यान दिया होगा कि कभी-कभी कंप्यूटर अटक अटक के चलता है मतलब हैंग होता है वास्तव में यह इसलिए होता है क्योंकि उस कंप्यूटर सिस्टम के सीपीयू में एक best processor नहीं लगा हुआ होता है जो कार्य की अधिकता को नहीं चल सकता इसी वजह से वह हैंग करने लगता है।

कंप्यूटर सीपीयू कितने प्रकार के होते हैं – Types of CPU in Hindi

CPU में लगाई जाने वाली अलग अलग प्रोसेसर के आधार पर हम सीपीयू के प्रकार के बारे में बात करने वाले हैं:

Single Core CPU Processor

इस प्रकार के सीपीयू में single core processor लगाए जाते हैं जिनकी कार्यक्षमता पावरफुल नही होती क्योंकि इस तरह के प्रोसेसर में केवल एक कोर होता है जो एक समय में एक ही कार्य को पूरा करेगा यदि यदि एक साथ मल्टीटास्किंग किया जाए तो हैंग हो जायेगा। अभी के नए लेटेस्ट टेक्नोलॉजी वाले कंप्यूटर में single core processor से अधिक का प्रोसेसर लगाया जाता है ताकि PC बेस्ट परफॉर्म करे।

Dual Core CPU Processor

ड्यूल कोर प्रोसेसर में 2 cores होते हैं जो Single Core से दुगनी स्पीड से Work Complete करते हैं। इस प्रकार के प्रोसेसर वाले सीपीयू में एक साथ कई एप्लीकेशन को ओपन किया जा सकता है मल्टीटास्किंग के दौरान हैंग प्रॉब्लम काफी हद तक सॉल्व हो जाती है।

Quad Core CPU Processor

इसमें 4 core लगे होते हैं जो चौगुनी गति से कार्यों को कंप्लीट करता है, इसकी working capacity एक Single Core CPU से चार गुना ज्यादा होती है। Fast Work Complete करने के लिए इस तरह के प्रोसेसर को सीपीयू में लगाया जाता है जिसमें easily office work, multitasking, gamming, entertainment, internet जैसी सुविधाओं को आसानी से use कर सकते हैं।

Hexa Core CPU

6 गुना फास्ट स्पीड से काम करने के लिए इस तरह के सीपीयू का उपयोग होता है यही हैवी सॉफ्टवेयर पर काम करने के लिए काफी होते हैं इस तरह के cpu का प्राइस भी single core cpu से कही ज्यादा होती है। इसमें। एडिटिंग, ग्राफिक्स, वीएफएक्स जैसे कार्य को किए जा सकते हैं।

Octa Core CPU

8 गुना तेज स्पीड से काम करने के लिए इस तरह के कोर वाले सीपीयू का उपयोग होता है इसमें 8 core होते हैं fast process करने में हेल्प करते हैं हाई ग्राफिक्स गेम्स को आसानी से प्ले कर सकते हैं उसके बावजूद हैंग प्रॉब्लम नहीं आएगा फटाफट काम निपटाने के लिए इसका उपयोग कर सकते हैं।

Deca Core CPU

जिस सीपीयू में डेका यानि 10 कोर प्रोसेसर लगे हो उसमें आप 10 गुना ज्यादा स्पीड से किसी भी प्रोसेस को कंप्लीट कर सकते हैं इस प्रकार के सीपीयू का यूज करने से आपका काफी टाइम बचता है, बड़े साइज वाले फाइल को किसी डिस्क में ट्रांसफर करने के लिए आपको ज्यादा इंतजार नहीं करना पड़ेगा।

CPU में CORE क्या होता है?

ऊपर दी गई जानकारी में आपने CORE शब्द को पढ़ा अगर आपने मन में सवाल है की सीपीयू प्रोसेसर में कोर क्या होता है? तो इसके बारे में जान लीजिए:

CORE को आप सीपीयू या प्रोसेसर की स्पीड मान सकते हैं।

आइए इसे example के जरिए समझते हैं: मान लीजिए किसी बड़े कार्य को करने में एक व्यक्ति को 10 घंटे का समय लगता है ऐसे में हो सकता है कि वह एक दिन में ही उस कार्य को पूरा ना कर सके इसलिए उसे आधा बचा हुआ काम दूसरे दिन भी करना होगा। लेकिन अगर उसी काम को 10 अलग अलग व्यक्तियों द्वारा एक साथ किया जाए तो वह काम केवल 1 घंटा में पूरा हो जाएगा इससे उस व्यक्ति के 9 घंटे बच जायेंगे, ठीक इसी प्रकार अगर Single Core वाले CPU को कार्य पूरा करने में 10 घंटे लगते हैं तो उसी काम को Dual Core सीपीयू द्वारा दुगनी गति से, Quad Core CPU द्वारा चौगुनी गति से, Hexa Core द्वारा छह गुना गति से, Octa Core द्वारा आठ गुना स्पीड से और Deca Core CPU द्वारा 10 गुना तेज गति से पूरा किया जा सकता है, मतलब Deca Core CPU द्वारा 10 घंटे के काम को केवल 1 घंटे में पूरा किया जा सकता है।

ऊपर दी गई जानकारी में आपने पढ़ा की CPU क्या है और सीपीयू का क्या कार्य है?, CPU processor क्या होता है?, CPU के प्रकार और Core Kya Hota Hai के बारे में जाना, उम्मीद करते हैं आपको यह इन्फॉर्मेशन समझ में आ गई होगी। आगे cpu से related अन्य information देने वाले हैं जिसे आपको जरूर पढ़नी चाहिए।

सीपीयू के भाग – Parts of CPU in Hindi

कंप्यूटर के बारे में आपको जरूर पता होगा यह मुख्य छह भागों से मिलकर बनता है (1) मॉनिटर (2) प्रिंटर (3) माउस (4) कीबोर्ड (5) सी पी यू और (6) यू पी एस, but इसी तरह सीपीयू के भी अलग अलग भाग होते हैं इसके बारे में ज्यादातर लोगों को पता नहीं होता अगर आपको भी Parts of CPU in Hindi नहीं पता और जानना चाहते हैं तो नीचे जानकारी दी गई है।

सीपीयू के कितने भाग होते हैं

एक सीपीयू के मुख्य तीन भाग होते हैं: (1) मेमोरी (2) कण्ट्रोल यूनिट, और (3) अरिथमेटिक लॉजिक यूनिट।

1. मेमोरी (memory)

मेमोरी एक प्रकार का स्टोरेज होता है जिसमें इनपुट डाटा या अन्य फाइल्स को स्टोर करके रखा जाता है। जब हम software को इंस्टॉल करते हैं तो उसका सारा data storage में स्टोर होता रहता है और उन्हीं स्टोर्ड डाटा उपयोग कंप्यूटर करता है। सिस्टम में Storage device के रूप में RAM और ROM लगे होते हैं जिनमें भी डाटा स्टोर होते हैं।

2. कण्ट्रोल यूनिट (control unit)

कंप्यूटर ऑन करने के बाद हम जितने भी कार्य करते हैं जितने भी प्रक्रिया शुरू होती है उन सभी को मैनेज करने का काम कंट्रोल यूनिट का होता है। स्टोरेज डिवाइस या मेमोरी में एकत्रित instructions को control unit receive करता है और CPU तक भेजता है और प्रोसेसर द्वारा कर प्रोसेसिंग प्रारंभ होती है।

3. Arithmetic Logic Unit

Arithmetic के माध्यम से सीपीयू सभी गणितीय जोड़ घटाव गुणा भाग इत्यादि करता है वही लॉजिक यूनिट के माध्यम से प्रोसेसिंग के बाद रिजल्ट्स को आउटपुट के रूप में प्रदान करता है।

कैसे बनता है कंप्यूटर का सीपीयू?

कंप्यूटर सीपीयू को बनाने में इसके अंदर लगाए जाने वाले अलग-अलग कंपोनेंट्स को तैयार किया जाता है जब आप नया सीपीयू खरीदने जाते हैं तब आप की आवश्यकता अनुसार सीपीयू के बॉडी में मदरबोर्ड और उसमें आवश्यक कंपोनेंट्स जैसे कि रवि कमेंटेड रैम, प्रोसेसर, हार्ड डिस्क, सीडी रोम इत्यादि फिट किया जाता है मदर बोर्ड में सारे कंपोनेंट्स को सही से फिट करने के बाद उसे सीपीयू के बॉडी में स्क्रू द्वारा फिट किया जाता है जब सीपीयू को पावर दिया जाता है तब वह ऑन हो जाता है। सीपीयू को बनाने के लिए हमें अलग-अलग पार्ट्स की आवश्यकता होती है जिन्हें हमें मदरबोर्ड पर फिट करना होता है। सभी आवश्यक कंपोनेंट्स सीपीयू के मदरबोर्ड के साथ ही आते हैं बस हमें इसे सीपीयू के बॉक्स में सेट करना होगा और कुछ आवश्यक कंपोनेंट्स एक्स्ट्रा लगाने के बाद उसे उपयोग लायक बना सकते हैं।

Conclusion – सीपीयू / सेंट्रल प्रोसेसिंग यूनिट

इस पोस्ट में आपने पढ़ा की CPU क्या है और सीपीयू का क्या कार्य है (cpu kya hai cpu ka karya in hindi) I hope की आपको यह इन्फॉर्मेशन अच्छी लगी होगी अगर पोस्ट से संबंधित कोई सुझाव या सवाल पूछना हो तो जरूर कमेंट करें।

इन्हें भी पढ़ें

Previous articleमोबाइल हैंग प्रॉब्लम ठीक कैसे करें – mobile hang problem solution in hindi
Next articleMobile Me Piano Kaise Sikhe | मोबाइल में पियानो कैसे सीखें

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here