Fountain Pen Ka Avishkar Kisne Kiya – Fountain Pen Ki Khoj Kisne Ki

दोस्तों पेन का उपयोग तो हम सभी करते हैं चाहे नोट्स बनाना हो या कोई महत्वपूर्ण बातों को डायरी में लिखना हो इसके लिए पेन बहुत जरूरी होता है।

लिखने के लिए अलग अलग तरह के पेन या कलम मार्केट में आ गए हैं जिन्हें लोग अपने पसंद के मुताबिक खरीदना ज्यादा पसंद करते हैं, कुछ हल्के रंग वाले तो कोई डार्क मतलब गाढ़े रंग वाले, सभी प्रकार के पेन उपलब्ध हैं।

पेन के प्रकारों की बात करें तो एक होता है normal pen जिसका use ज्यादातर स्कूलों और कॉलेजों में notes बनाने में किया जाता है और दूसरा Fountain Pen, इसका उपयोग भी लेखन कार्य में होता है but यह dark writing के लिए use होता है।

वैसे आज के इस पोस्ट में आपको फाउंटेन पेन के बारे में ही अधिक जानकारियां पढ़ने को मिलेगी जिसमें आप जानेंगे की Fountain Pen Ka Avishkar Kisne Kiya – फाउंटेन पेन की खोज किसने की?

Fountain Pen क्या है – What is Fountain Pen in Hindi

Fountain Pen Ka Avishkar Kisne Kiya - Fountain Pen Ki Khoj Kisne Ki
Fountain Pen Image

फाउंटेन पेन एक प्रकार का कलम है जिसका उपयोग लिखने के लिए होता है, जिस तरह आधुनिक पेन के जरिए लेखन कार्य होता है उसी तरह फाउंटेन पेन से भी बेहतरीन टेक्स्ट लिखें जाते हैं।

इस पेन का आकार ball pen की तुलना में थोड़ा बड़ा होता है, Fountain Pen में स्याही का टैंक होता है जिसमें colour होता है जो पेन में लगी ✒️ निब के जरिए paper पर आता है, जब आप पेन को पेज पर रखकर hand movement करते हैं तब स्याही paper पर लिखने लगता है।

हालांकि फाउंटेन पेन का उपयोग आजकल अधिक नहीं होता किन्तु एक समय में यह बहुत अधिक प्रचलित था, इसी पेन का use होता था लेखन के लिए और आज भी कई लोग इस पेन का उपयोग करते हैं best quality handwriting के लिए।

लिखने के लिए फाउंटेन पेन का उपयोग

  • वैसे तो इस पेन से भी normal text लिखे जाते हैं लेकिन stylish text और attractive font में अक्षर को लिखने में इसका use होता है।
  • किसी विशेष व्यक्ति को पत्र भेजना हो जिसमें विशेष लिखावट शामिल हो तो इसके लिए fountain pen का use कर सकते हैं।
  • बड़े अधिकारियों द्वारा भी इस पेन का उपयोग किया जाता है आवश्यक दस्तावेजों में हस्ताक्षर करने के लिए, इसका मुख्य कारण यह है की इस वाले पेन में लिखावट पेज में उभरकर सामने आती है।
  • गिफ्ट देना हो या विशिंग कार्ड देना हो उसमें भी अपनी बातें text form में लिखने के लिए ballpoint pen के जगह पर fountain pen use किया जाता है।

Fountain Pen के फायदे

  • इस पेन का सबसे बड़ा फायदा यह है की इसमें बड़ा निब लगा होता है जिसके वजह से बेहतरीन लिखावट देखने को मिलती है।
  • जिन लोगों को डायरी, शायरी या स्पेशल नोट्स लिखने का शौक होता वे अक्सर अपने पास फाउंटेन पेन रखते हैं।
  • Fountain Pen से आकर्षक writing तो मुमकिन है ही लेकिन इसे अपने साथ रखने में भी ballpoint pen की तुलना में काफी premium fill होता है।

कहां से लें फाउंटेन पेन

Fountain पेन को आसानी से ऑनलाइन शॉपिंग साइट से ऑर्डर कर सकते हैं, इसके अलावा market से भी खरीद सकते हैं।

Fountain Pen Ka Avishkar Kisne Kiya – Fountain Pen Ki Khoj Kisne Ki

फाउन्टेन पेन का आविष्कार सन्न 1827 में पेट्राक पोएनारू नामक एक आविष्कारक ने किया था। इनके इस invention के बारे में ज्यादा जानने से पहले इनके बारे में कुछ जानकारियां नीचे दी गई है।

पेट्राक पोएनारू

  • जन्म की तारीख और स्थान : पोएनारू का जन्म 10 जनवरी सन् 1799 को बेनेस्टी , वाल्सिया काउंटी , वालाचिया में हुआ था।
  • प्रोफेशन या कार्य : आविष्कारक, शिक्षक, गणितज्ञ, इंजीनियर आदि।
  • इन्हें जाना जाता है : Fountain Pen के आविष्कारक के रूप में।
  • इनकी शिक्षा हुई थी : पेरिस तथा वियना में और अन्य विशेष शिक्षा इंग्लैंड में हुई।
  • मृत्यु : 2 अक्टूबर, 1875 को हुई थी।

लुईस वाटरमैन

Fountain Pen Inventor के बारे में जानने के बाद इनके बारे में भी पढ़ लीजिए, लुईस वाटरमैन एक अमेरिकन आविष्कारक थे जिन्होंने बाद में फाउंटेन पेन के डिजाइन को modify करके पहले से बेहतर बनाया।

लुईस का जन्म 20 नवंबर 1836 को हुआ था, वे अमेरिका के रहने वाले थे इन्होंने खुद के नाम पर Waterman Pen Company की स्थापना भी की थी। इनकी मृत्यु 1 मई 1901 को न्यूयॉर्क शहर में हुई थी।

ऊपर दी गई जानकारी में अब तक आपने पढ़ा की fountain pen ka avishkar kisne kiya जिससे यह पता चलता है की फाउंटेन पेन का इन्वेंशन किसने किया है? But इस मॉर्डन युग में इस्तेमाल होने वाले ballpoint pen का आविष्कार किसने किया वो भी जान लीजिए।

Ballpoint Pen का आविष्कार किसने किया और कब?

आजकल use होने वाली पेन जिसे Ball pen या ballpoint पेन के नाम से जाना जाता है इसका आविष्कार जॉन जैकब लाउड ने साल 1988 में किया था।

पेन के आविष्कार का मुख्य श्रेय

आधुनिक पेन के निर्माण का मुख्य श्रेय किसी एक व्यक्ति विशेष को नही दिया जा सकता क्योंकि कई लोगों ने इसमें अपना योगदान दिया है, आधुनिक पेन को भले ही जॉन जैकब लाउड ने बनाया लेकिन इससे पहले फाउंटेन पेन बनाया गया था जिसे पेट्राक पोएनारू ने बनाया था, बिना इनके आइडिया के आधुनिक पेन नही बन सकता था।

इतिहास

जब फाउंटेन पेन या बॉलपेन नहीं बने थे तब भी लिखने का काम होता था, प्राचीन जगहों पर ऐसे कई सबूत देखने को मिलते हैं जहां पत्थरों या शिलाओं पर अक्षर लिखे होते हैं, अलग अलग चित्रकारी की गई होती है।

हजारों साल पहले भी पक्षियों के पंखों का इस्तेमाल होता था लिखने के लिए, इसी तरह पुस्तकें लिखी जाती थी।

Conclusion

इस लेख में आपने पढ़ा की Fountain Pen Ka Avishkar Kisne Kiya – Fountain Pen Ki Khoj Kisne Ki? अगर आपको यह जानकारी अच्छी लगी तो इसे अपने दोस्तों के साथ भी शेयर करें। Post से रिलेटेड अन्य सवाल के लिए Comments करें।

Read Also

Leave a Comment