Net Banking Kya Hoti Hai in Hindi – What is internet banking in Hindi

आपने नेट बैंकिंग के बारे में जरूर सुना होगा इसका उपयोग ऑनलाइन ट्रांजैक्शन के लिए किया जाता है अगर आप जानना चाहते हैं की Net Banking Kya Hoti Hai in Hindi (What is internet banking in Hindi) नेट बैंकिंग के बारे में जानकारी तो आज के इस पोस्ट में मैं यही बताने वाला हूं।

नेट बैंकिंग की सुविधा बैंकों द्वारा अपने ग्राहकों को दी जाती है ताकि वह अपने घर से ही ऑनलाइन लेने देने संबंधी कार्य पूरा कर सकें, इसकी मदद से बैंक कस्टमर का काफी टाइम बच जाता है  और यह इजी टू यूज है इसलिए कोई भी खाताधारक मोबाइल द्वारा net banking service का उपयोग कर सकता है।

Net Banking Kya Hoti Hai in Hindi | Mobile banking | Personal banking

Net Banking Kya Hoti Hai in Hindi
what is net banking

नेट बैंकिंग (Online Banking) बैंकों द्वारा अपने ग्राहकों को दी जाने वाली एक ऐसी ऑनलाइन सुविधा है जिसके माध्यम से ग्राहक अपने अकाउंट का स्टेटमेंट, लेन देन या लेखा जोखा का हिसाब किताब रख सकता है इसके लिए बैंक में जाकर अकाउंट स्टेटमेंट निकलवाने की आवश्यकता नहीं पड़ती क्योंकि यह काम कस्टमर खुद अपने फोन या अन्य डिवाइस द्वारा प्राप्त कर सकता है, इसका उपयोग करना बेहद आसान होता है।

ऑनलाइन बैंकिंग को ही नेट बैंकिंग कहा जाता है इसे मोबाइल बैंकिंग या पर्सनल बैंकिंग भी बोल सकते हैं। 

नेट-बैंकिंग सेवा प्रदान करने वाले बैंकों के नाम

NO.BANKS NAME
1.Andhra Bank Net Banking
2.Axis Bank Net Banking
3.Allahabad Bank Net Banking
4.Bank of Baroda Net Banking
5.Bandhan Bank Net Banking
6.Bank of India Net Banking
7.Bank of Maharashtra Net Banking
8.Canara Bank Net Banking
9.Corporation Bank Net Banking
10.Citibank Net Banking
11.HDFC Net Banking
12.Indian Bank Net Banking
13.IDBI Bank Net Banking
14.Karnataka Bank Net Banking
15.State Bank of India (SBI) Net Banking
16.Standard Chartered Bank Net Banking
17.Tamilnad Mercantile Bank Net Banking
18.UCO Bank Net Banking
19.United Bank of India Net Banking
20.Union Bank Net Banking
21.Vijaya Bank Net Banking

Sbi Internet Banking Ke Fayde in Hindi

इंडिया के अलग-अलग Banks अपने कस्टमर्स को इंटरनेट बैंकिंग की फ्री सर्विस उपलब्ध कराते हैं जैसे कि State Bank of India (SBI), Andhra Bank, Axis Bank, Bank of India Etc. Net banking or personal banking के कई सारे advantages हैं उनके बारे में नीचे Information दी गई है। 

समय की बचत होती है (Saves Time)

यदि बैंक आपके घर से कई किलोमीटर दूर है तो आपको बैंक तक जाने में ज्यादा समय लगेगा पर यदि आपके फोन पर नेट बैंकिंग सुविधा एक्टिव है तो उसकी हेल्प से आप बिना बैंक जाए घर से ही अपना काम पूरा कर सकते हैं, इससे काफी वक्त बचेगा।

दिन-रात 24 घंटे बैंकिंग सुविधाओं का लाभ ले सकते हैं 

बैंक खुलने तथा बंद होने का एक फिक्स टाइम होता है यदि आप  किसी वजह से बैंक देरी पहुंचते हैं तो आपका काम अटक जाता है जिससे आपको कई परेशानियों का सामना करना पड़ता है इसी के समाधान के तौर पर नेट बैंकिंग सर्विस का उपयोग किया जा सकता है क्योंकि नेट बैंकिंग सुविधा चौबीसों घंटे सप्ताह के सातों दिन चालू रहता है जिसे आप अपने फोन पर कभी भी और कहीं से भी Access कर सकते हैं।

क्रेडिट कार्ड या डेबिट कार्ड के लिए ऑनलाइन अप्लाई कर सकते हैं 

यदि आपके पास बैंक का अकाउंट है तो एटीएम में डेबिट कार्ड का होना बहुत जरूरी हो जाता है क्योंकि इसके द्वारा ही हम एटीएम मशीन से पैसे निकाल सकते हैं इसके अलावा कुछ लोग क्रेडिट कार्ड का यूज भी करते हैं इसके लिए हमें बैंक में फॉर्म भर के आवेदन करना होता है किंतु यदि आप इस काम को स्वयं करना चाहते हैं तो नेट बैंकिंग भर कर सकते हैं इसके लिए आपको अपने बैंक के ऑफिशियल वेबसाइट पर जाना होगा और एटीएम कार्ड अप्लाई करने के लिए जरूरी निर्देशों तथा प्रक्रियाओं को पूरा करना होगा।

डेबिट कार्ड ब्लॉक या एक्टिवेट भी कर सकते हैं 

यदि गलती से आपका एटीएम डेबिट कार्ड कहीं गुम हो जाता है तो अपने अकाउंट की सुरक्षा के लिए आपको उसे बंद करना पड़ता है और इस कार्य को आप नेट बैंकिंग की मदद से आसानी से कर सकते हैं जहां पर आपको अपनी कार्ड की डिटेल भरकर उसे ब्लॉक करने का ऑप्शन मिल जाता है। इसके अलावा अपने नए एटीएम कार्ड को एक्टिवेट या चालू करना आसान हो जाता है।

अपने अकाउंट से किसी अन्य बैंक अकाउंट में पैसे भेजे जा सकते हैं 

अगर आपको किसी को अर्जेंट पैसे भेजने हो तो नेट बैंकिंग द्वारा यह आसानी से कर सकते हैं इसके लिए आपको अपने बैंक की official site पर username और password डालकर login करना होगा और पेमेंट ट्रांसफर वाले सेक्शन पर जाकर Beneficiary name, Beneficiary account number और amount Etc. enter करके दूसरे खाते में पैसे ट्रांसफर (MONEY TRANSFER) कर सकते हैं।

चेक बुक के लिए आवेदन कर सकते हैं

हमें बड़े अमाउंट देने के लिए चेक बुक की आवश्यकता होती है ताकि कोई उसे बैंक में जमा करके रकम निकाल सके अगर चेक बुक खत्म हो जाती है तो उसे दुबारा मंगवा सकते हैं इसके लिए आप नेट बैंकिंग द्वारा ऑनलाइन रिक्वेस्ट भेज सकते हैं और चेक आपके पोस्टल एड्रेस पर भेज दिया जाता है।

एटीएम पिन जनरेट या चेंज करने की सुविधा 

जब आपके पते पर नया  एटीएम कार्ड आता है तो उसे उपयोग करने से पहले उसके लिए PIN जनरेट करना होता है और सिक्योरिटी के लिए समय-समय पर एटीएम पिन चेंज करना पड़ता है इसके लिए आप एटीएम मशीन या नेट बैंकिंग का उपयोग कर सकते हैं।

बैंक अकाउंट बैलेंस चेक कर सकते हैं

अगर आप अपने बैंक अकाउंट का बैलेंस अमाउंट पता करना चाहते हैं तो वह आप  बैंक की साइट पर लॉगइन करके नेट बैंकिंग द्वारा पता कर सकते हैं हालांकि यह काम आप किसी भी ऑनलाइन पेमेंट एप्लीकेशन जैसे गूगल पे, अमेजॉन पे पेटीएम आदि पर कर सकते हैं।

बैंक अकाउंट स्टेटमेंट निकाल सकते हैं 

1 महीने या 1 साल के भीतर आपने कितने ट्रांजैक्शन किए कहां-कहां आपने पैसे भेजे और कहां से आपके अकाउंट पर पैसे डाले गए हैं इत्यादि सभी जानकारी आपको अकाउंट स्टेटमेंट में मिल जाती है इसे आप अपने ब्रांच में जाकर निकलवा सकते हैं या नेट बैंकिंग द्वारा खुद ही अकाउंट ट्रांजैक्शन डीटेल्स या स्टेटमेंट देख सकते हैं इसे आप प्रिंट (PRINT) भी कर सकते हैं।

इंटरनेट बैंकिंग के नुकसान – Net Banking Ke Nuksan

हर चीज के कुछ ना कुछ फायदे और नुकसान होते ही हैं नेट बैंकिंग यूज करते हैं तो आपको इनके बारे में जरूर पता होना चाहिए।

  • Online banking संबंधित कार्यों में सबसे बड़ा खतरा Username and password hack हो जाने का होता है यदि आपने गलती से भी किसी unknown person को अपने Bank details share कर दी है तो आपका account safe नहीं है।
  • इसका एक नुकसान यह भी है कि अगर किसी बैंक के सभी ग्राहक लोग एक साथ नेट बैंकिंग का उपयोग करें तो ऐसे में वेबसाइट का सर्वर डाउन हो जाता है ऐसी स्थिति में आपका काम अटक जाता है।
  • ऑनलाइन ठगी करने वालों से बचकर रहें जो महंगे ऑफर का लालच देकर लोगों से net banking, bank details, card details etc. निकाल लेते हैं, यदि आप इन सब के झांसे में फसते हैं तो आपका भारी नुकसान हो सकता है।
  • इसका एक नुकसान यह भी है कि अगर किसी बैंक के सभी ग्राहक / लोग एक साथ Internet banking use करें तो ऐसे में website server down हो जाता है ऐसी situation में आपका काम अटक जाता है।

इंटरनेट बैंकिंग से जुड़ी कुछ सिक्योरिटी टिप्स 

Net Banking Kya Hoti Hai in Hindi
Security Tips

मोबाइल बैंकिंग से रिलेटेड सिक्योरिटी आपको जरूर पता होना चाहिए इनको फॉलो करके आप अपने यूजरनेम एंड पासवर्ड को सुरक्षित रख सकते हैं।

  • Internet banking का Username & Password किसी के साथ Share ना करें, अपने खास दोस्तों के साथ भी नहीं।
  • किसी भी प्रकार का ऑनलाइन भुगतान कार्य अपने डिवाइस पर ही करें किसी अन्य मित्रों के फोन या कंप्यूटर सिस्टम का उपयोग अपने नेट बैंकिंग प्रोफाइल को एक्सेस करने के लिए ना करें।
  • आप जिस भी web browser का use करते हैं उस browser में अपना Important login details (personal banking login password) को save ना करें because ऐसा करने से कोई भी बड़ी आसानी से आपकी प्रोफाइल को access कर सकता है।
  • Username और Password को बीच-बीच में जरूर change करें आप चार-पांच महीने में एक बार पासवर्ड बदल सकते हैं।
  • हो सके तो अपने यूजर नेम और पासवर्ड को खुद ही याद कर ले ताकि उसे कोई चुरा ना सके।
  • जब आप नया यूजरनेम और पासवर्ड बनाते हैं तो उसमें  नॉर्मल कैरेक्टर, नंबर  और कुछ स्पेशल कैरेक्टर जरूर ऐड करें।
  • अनजान या धोखाधड़ी वाले वेबसाइट पर विजिट करने और पर्सनल डाटा शेयर करने से बचें, हमेशा भरोसेमंद साइट का उपयोग करें।
  • आप जिस phone number पर active रहते हैं उसी नंबर को अपने bank account से link करवाएं ताकि जब भी कोई किसी प्रकार का पेमेंट आपके अकाउंट से करता है तो उसकी पूर्ति (Conformation) के लिए ओटीपी सीधे आपके फोन नंबर पर आए।

बैंक द्वारा हमारे अकाउंट को दी जाने वाली सिक्योरिटी 

  • ऑनलाइन फ्रॉड से बचने के लिए अब बैंक अपने ग्राहकों की रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर पर अलर्ट सूचना (alert notification) भेजती है कि किसी के साथ भी अपना कार्ड डिटेल या बैंक से जुड़ी डिटेल साझा ना करें।
  • आजकल Security पर सभी banks खास तौर पर ध्यान देते हैं इसलिए अगर आप नेट बैंकिंग का उपयोग करते हैं तो किसी भी प्रकार का ट्रांजैक्शन पूरा करने से पहले आपके फोन पर ONE TIME PASSWORD (OTP) भेजा जाता है ओटीपी सही-सही इंटर करने के बाद ही payment complete हो पाता है।

अब तक आपने Net Banking Kya Hoti Hai in Hindi, Internet Banking Ke Fayde और Account Security Tips के बारे में जान लिया है अगर आपको net banking की registration process की जानकारी चाहिए तो हमारे इस लेख पर कंटीन्यू बने रहें।

एसबीआई नेट बैंकिंग के लिए क्या आवश्यक है

अगर आप भी नेट बैंकिंग सुविधा का लाभ लेना चाहते हैं तो इसके लिए आपको नेट बैंकिंग सपोर्टेड किसी बैंक में अकाउंट ओपन करना होगा सभी का अलग-अलग बैंक में खाता हो सकता है, मैं यहां पर एसबीआई नेट बैंकिंग Use करने के लिए क्या-क्या चाहिए यह बता रहा हूं। 

  • आपका एक बैंक अकाउंट होना जरूरी है अगर आप एसबीआई के ग्राहक हैं तो आपके पास एसबीआई का बैंक अकाउंट होना चाहिए साथ में बैंक का पासबुक। 
  • यह सुनिश्चित करें कि आपकी बैंक अकाउंट से आपका फोन नंबर रजिस्टर किया गया है।
  • डेबिट कार्ड या एटीएम कार्ड होना अनिवार्य है।

नेट बैंकिंग के लिए रजिस्ट्रेशन कैसे करें?

अभी के टाइम पर आपको भी नेट बैंकिंग सुविधा का लाभ उठाना चाहिए यदि आप नेट बैंकिंग का उपयोग करना चाहते हैं तो इसके लिए आप अपने ब्रांच में जाकर बैंक मैनेजर से संपर्क कर सकते हैं इसके अलावा ऑनलाइन तरीके से भी नेट बैंकिंग एक्टिवेट कर सकते हैं।

Net Banking Kya Hoti Hai in Hindi
How to register for net banking?

मैं यहां पर SBI की वेबसाइट पर जाकर नेट बैंकिंग के लिए रजिस्ट्रेशन कैसे करें बता रहा हूं यदि आपका किसी अन्य बैंक पर अकाउंट है तो आपको उस बैंक की ऑफिशियल वेबसाइट पर जाकर नेट बैंकिंग के लिए रजिस्ट्रेशन प्रक्रिया पूरी करनी होगी।

Visit Website –

1) एसबीआई की आधिकारिक वेबसाइट onlinesbi.com पर जाइए।

2) अब आपको New User Registration पर क्लिक करना होगा स्क्रीन में ऊपर की तरफ एक पॉपअप आएगा simply OK पर क्लिक कीजिए।

3) इसके बाद account number, CIF Number, bank branch code, country और registered mobile number enter करें, Submit बटन पर क्लिक करें।

4) आपके bank account से registered phone number पर one time password (OTP) receive होगा simply उसे दिए गए box में enter करके confirm करें।

5) Internet banking registration के लिए 2 विकल्प आयेंगे इसमें आपको I have my ATM card को select करके Submit करना है।

6) उसके बाद ATM Card Number, Card Expiry Date, ATM PIN और Card Holder Name Enter करके कैप्चा Text भरना है and Proceed पर click करें।

7) Net Banking login के लिए आपको temporary username (अस्थायी उपयोगकर्ता नाम) मिल जायेगी आपको इसे note कर लेना है। इसी प्रकार और अस्थाई लॉगइन पासवर्ड बनाएं और सबमिट पर क्लिक करें।

Go to Login Page –

8) इतना प्रोसेस फॉलो करने के बाद आपको अपना यूजरनेम पासवर्ड activate करना होगा इसके लिए again login page पर जाए – onlinesbi.com

9) आपको लॉगइन बटन पर क्लिक करना होगा उसके बाद दूसरा पेज ओपन होगा जहां पर आपको कंटिन्यू पर लॉगिन पर फिर से क्लिक करना होगा।

10) अभी आपको अपना यूजरनेम और पासवर्ड डालकर लॉग इन पर क्लिक करना होगा। ध्यान रहे नेट बैंकिंग रजिस्ट्रेशन के दौरान आपको टेंपरेरी यूजरनेम दिया जाता है जो अस्थाई है इसलिए आपको एक नया यूजरनेम बनाने का ऑप्शन मिलता है वहां पर Unique Username Create करें फिर Submit करें।

11) ठीक इसी तरह एक नया पासवर्ड बनाने का ऑप्शन आएगा अपने लॉगिन पासवर्ड में numbers, letters and special characters include कर सकते हैं। Confirmation के लिए same password नीचे वाले box दुबारा enter करके confirm करें।

ऊपर बताया जाए स्टेप को फॉलो करके आपने अभी तक इंटरनेट बैंकिंग यूजरनेम और पासवर्ड बना लिया है लेकिन इसका यूज आप केवल नेट बैंकिंग पर लॉगइन करने के लिए कर सकते हैं अगर आपको अकाउंट या एटीएम कार्ड से जुड़ी किसी भी प्रकार का बदलाव करना हो तो इसके लिए आपको प्रोफाइल पासवर्ड बनानी होगी।

Set Profile Password –

12) प्रोफाइल पासवर्ड बनाएं।

  • Enter Profile password – आपको प्रोफाइल पासवर्ड एंटर करना है अपने पासवर्ड में नंबर, लेटर और कुछ स्पेशल कैरेक्टर को जरूरी यूज़ करें।
  • Confirm profile password – आपने जो पासवर्ड दर्ज किया है उसे दोबारा इंटर करें।
  • Hint question – फ्यूचर में अगर आप कभी अपना प्रोफाइल पासवर्ड भूल जाए तो उसे आसानी से रिसेट करने के लिए कोई हिंट क्वेश्चन चुनिए।
  • Place of birth – अपना जन्मस्थान भरें।
  • Country – India Select करें।
  • Mobile Number – रजिस्टर्ड फोन नंबर डालें।
  • Last में Submit button पर Click कर दें।

अब आपका नेट बैंकिंग अकाउंट सफलतापूर्वक एक्टिवेट हो चुका है आप जब चाहे तब साइट पर लॉगिन करके इंटरनेट बैंकिंग सेवाओं का लाभ उठा पाएंगे।

Final Words About Net Banking Kya Hoti Hai in Hindi

दोस्तों के लिए कहता हूं आपको आज का हमारा क्या है आर्टिकल पसंद आया होगा जिसमें आपने पढ़ा कि Net Banking Kya Hoti Hai in Hindi (what is internet banking in hindi) और इसके क्या क्या फायदे होते हैं इसके अतिरिक्त इसमें रजिस्ट्रेशन प्रक्रिया की जानकारी भी हमने यहां पर शेयर की है जिसने हमें उम्मीद है कि अपने यहां से जरूर कुछ सीखा होगा। 

मैं यहां पर इसी प्रकार की नॉलेजेबल टॉपिक पर लेख प्रकाशित  करता रहता हूं अगर आपको इस तरह का पोस्ट पढ़ना पसंद है तो हमारे इस ब्लॉग को जरूर सब्सक्राइब करें। यदि आपको इस पोस्ट से संबंधित किसी भी प्रकार का सवाल पूछना है तो कमेंट के जरिए पूछ सकते हैं। Thank you!

Leave a Comment